Saturday, November 21, 2020

Mark Meaning in Hindi with All Tips - मार्क के हिन्दी मतलव समझे।

दोस्तो आज के इस आर्टिक्ल के अंतर्गत हम आपको बताने वाले है डिक्शनरी के मार्क शब्द के बारे मे विस्तार जानकारी। इसमे हम जानेगे इनके प्रभाव, उपयोग को भिन्न - भिन्न उदाहरणो के द्वारा समझाएँगे। इन शब्दो का हमारे जीवन मे उपयोग ऑर इनका किस प्रकार से प्रभाव सीधे या विपरीत तौर पर पड़ता है। 

सभी बातो को अच्छी तरह आपको इस आर्टिक्ल मे जानने को मिलेगा। इस आर्टिक्ल को पूरा अंत तक अच्छी तरह रीड करे ताकि सभी बाते आपको समझ आए ऑर फिर इनका इस्तेमाल आसानी से कर सको, तो अब चलिये ज्यादा बाते ना करके आगे बड़ते है। 

Mark Meaning in Hindi with All Tips :


Mark Means in Hindi :

निशान, 
चिन्ह, 
घाव,

ऊपर बताए प्रत्येक शॉर्ट मतलवों को अच्छी तरह जानकर रीड करके बहुत सी जगहो पर इस्तेमाल कर ही लिया होगा। जिससे आपको लाभ मिला, इन छोटे शब्दो को याद करके कही भी यूज करना काफी आसान होता है। लेकिन इन्हे जितनी जल्दी याद किया जाता है ये उतनी ही आसामी से कम समय मे दिमाग से बाहर भी निकल जाते है। इसी बात को ध्यान रखते हुये हमने यह इतना बड़ा पोस्ट लिखा जो आपकी काफी मदद करने बाला शावित होगा। 

हमने इस वर्ड को कुछ अलग - अलग मतलवों के द्वारा उदाहरणो की मदद से पूरे आर्टिक्ल मे समझाया है जिसे पढ़कर प्रत्येक बाते आपके दिमाग मे बेहतर तरीके से याद हो जाएगी। चलिये अब ज्यादा समय ना लगाते हुये जल्दी से आगे बड़ते है।



Details of Mark Means in Hindi :


सभी वर्ड के विस्तार रूपो को अच्छे से जाने -

- निशान, दोस्तो यदि इस वर्ड पर थोड़ा ध्यान देकर समझे तो यह हमारे समाज मे कई जगहो पर देखा जा सकता है। आपने अपने चारो ओर इसे देखा ऑर लोगो के द्वारा सूना भी होगा। इसका ज़्यादातर कुछ चीजों को समझाने हेतु भिन्न जगहो पर किया जाता है। आपने कई बार रास्तो पर बहुत से बोर्ड लगे देखे ही होंगे इनमे कुछ लिखा होने के अलावा किसी दिशा को भी बतलाता प्रतीत होता है। 

- चिन्ह, इसे हम ऊपर बताए वर्ड के कुछ हद तक मिलता - जुलता मान सकते है। यदि देखा जाये तो यह एक चिन्ह बहुत सारी पीछे की बातो को वया कर देता है या कहे इसे देखकर अनेकों वर्ड को समझ सकते है। खासकर इसे लिखावट एवं रूप चित्रकला मे इस्तेमाल करते देखा जा सकता है। 

- घाव, दोस्तो हम सभी एक समाज मे रहते है जहां अनेको तरह के रिस्ते, परिवार, दोस्तो आदि के बीच मिलना - जुलना लगा रहता है। इसका चलते एक स्थान से दूसरे स्थान की ओर यह जाते समय कुछ घटना के चलते एक स्थान से दूसरे स्थान की ओर यह जाते समय कुछ घटना के चलते हाथ, पैरो या शरीर के किसी भी भाग मे चोट लग जाये तब इसे घाव शब्द के द्वारा समझा जाता है। यह किसी भी व्यक्ति को कारणो के चलते लगता है। अगर देखा जाये तो घाव कुछ प्रकार के होते है पहला आंतरिक एवं दूसरा बाहरी ऐस सूना भी है कि बड़े से बड़ा घाव भी समय के साथ ठीक होता है। 

सभी वर्ड के प्रभाव को अच्छी तरह से जाने -

- निशान, दोस्तो जिस प्रकार धरती पर अच्छी ऑर बूरी बाते है वैसे ही इस शब्द का प्रभाव दोनों दिशाओ सकारात्मक एवं नकारात्मक मे देखने को मिलता है। समाज किसी भी चीजों के अच्छे एवं बूरे प्रभावों से बच नही पाया है। कुछ लोग हमे अलग तरह से समझेंगे तो कुछ इसे सही बातो को ध्यान रखेंगे।

- चिन्ह, दोस्तो हमारे आस - पास अनेकों तरह के चिन्ह दिखाई पड़ते है जो अलग - अलग मतलवों को बतलाते है कुछ चिन्ह के अर्थो को आप अच्छी तरह समझते होंगे तो कुछ मे दिक्कत का सामना करना पड़ता होगा। समान मे अनेकों तरह के लोग रहते हुये जीवन बिताते है। इन सभी के पास अपना दिमाग ऑर विचार है वे इन्ही बिचारो के चलते ही इनका अर्थ निकालते है। 

- घाव, दोस्तो आप सभी इस वर्ड को काफी करीब से समझते ही होंगे क्योकि पूरी लाइफ के अंदर कभी ना कभी आपको किसी कारण या दुर्घटना के चलते शरीर के किसी भाग मे चोट अवश्य ही आई होगी। यह चोट बड़े या छोटे स्तर कि हो सकती है। 

प्रत्येक वर्ड के उपयोग जानिए -

- निशान, रास्तो पर अनेकों तरह के मार्ग दर्शन हेतु इसे लगाकर उपयोग किया जाता है।

- चिन्ह, यह अधिकतर पाठ्यक्रम मे कुछ बातो को प्रकट करने हेतु समझ सकते है। 

- घाव, किसी दुर्घटना के चलते शरीर पर चोट को इससे समझते है। 

फ़्रेंड्स आपको ये जानकारी कैसी लगी। यदि सभी अच्छी तरह समझ आई तो हमे बताए साथ ही कुछ बदलाव कराना या परिवर्तन चाहते है तो हमे कमेंट करे या फिर संदेश भेजे। हम आगे बाले पोस्ट मे कुछ परिवर्तन लाकर आपको अच्छी जानकारी देने की कोशिश करेंगे। जो आपके लिए काफी फायदेमंद शावित होगी। 

इस पोस्ट को अपने दोस्तो के साथ शेयर करके हमे उत्साह प्रदान करे। जिससे कि दोस्तो की मदद हो पाये। ऐसे ही पोस्ट के लिए हमने जुड़े रहे या फॉलो करे। चलिये अब नयी पोस्ट मे आपसे मिलते है, तब तक के लिए अलबिदा।    

No comments:

Post a Comment