दोस्तों ये आर्टिकल शब्दकोष के वर्ड थ्रू पर लिखा गया है यहाँ हम थ्रू का हिंदी अर्थ को विस्तार से डेफिनिशन के साथ बतायेंगे. Means of Through in Hindi को पढ़ने और समझने के लिए इस पोस्ट को आखिर तक पूरा एक बार अवश्य पढ़े. 

Through Means in Hindi and Simple Uses :

Means of through in Hindi -
  •  सीधा
  •  शुरू से अंत तक
  •  एक से दूसरे तक
  •  लगातार

मुझे उम्मीद है अब तक तो आपने थ्रू के हिंदी से रिलेटेड ऊपर बताये प्रत्येक शोर्ट मतलवो को पड़ लिया होगा जिससे आपको इसकी परिभाषा को संक्षेप में जाना भी होगा. अब सवाल ये है क्या आपको इस छोटे वर्डो से उस लेवल की इनफार्मेशन मिली जो आपके लिए जानना जरुरी थी याने इनसे सम्बंधित वे सभी बाते जो इसे पूरी तरह बताए ताकि इनको अच्छे से समझकर अपने दिमाग में स्मरण किया जा सके तो इसका जवाव शायद नही ही होगा. 

हमने इसी बात का ध्यान रखते हुए इस पूरे आर्टिकल में थ्रू से रिलेटेड प्रत्येक वर्ड को example, उपयोग और प्रभाव के द्वारा बहुत बेहतरीन तरीके से बताया ताकि इनको पढ़कर एक स्टोरी की तरह याद करके समय आने पर आसानी से इस्तेमाल कर पाये तो देर ना करके चलिए आगे बड़ते है.



Means of Through in Hindi and Examples :

प्रत्येक शब्दों के अर्थो को उदाहरण के साथ जाने -

- शुरू से अंत तक, फ्रेंड्स आप और मैं ये बात इस जीवन में अच्छी तरह जानते है कि जिन चीजो, बातो, वस्तुओ की शुरुआत होती है उनका अंत भी होता है हालाकि कुछ चीजे जल्दी शुरू होकर जल्दी ही खत्म हो जाती है तो कुछ स्टार्ट होंने के बाद पीढ़ी दर पीढ़ी चलती ही जाती है लेकिन यहाँ ये जरुर निश्चित है की इनका भी समय के साथ अंतिम होगा ही. 

इसी के अंतर्गत चीजे बड़ी या छोटी हो सकती है ऐसा बिल्कुल भी नही होता है कि छोटी वस्तु या कार्य का पहले अंत होगा और बड़ी वस्तुओ और काम बहुत लम्बे समय तक गतिमान रहेंगे. बस हमे एक ध्यान रखना है कि इस नश्वर संसार में जो भी चीजे दिखाई पड़ रही वे टाइम के साथ अपने आखिरी पड़ाव की ओर गतिमान है. 

और एक दिन निश्चित ही इनका वह दिन भी आएगा जब इनका कोई अस्तित्व हमारे सामने नही दिखाई पड़ेगा याने ये एक्सिक्ट ही नही करेगी. इस भौतिक वर्ल्ड के अन्दर.

- एक से दूसरे तक, इसके अंतर्गत चीजो का, बातो का, बिचारो का, संस्कारो का, भावनाओ, आचार - बिचार आदि भौतिक और वर्चुअल चीजो के एक इन्सान से दूसरे इन्सान या एक स्थान से दूसरे तक वस्तुओ तक पहुचाने के द्वारा इसे समझ सकते है. 

हमारे चारो तरफ बहुत से उदाहरण है जो इन सभी एक से दूसरे तक पहुचाने का माध्यम बने हुए है. जैसे चीजे या वस्तुओ किसी व्यापार से संबंध रखते हुए एक से दूसरे तक के चलते हम यहाँ स्थान को समझ सकते है. बातो और बिचारो के लिए सोसाइटी और समाज को ले सकते है जहाँ इन्हें एक से दूसरे तक पहुचाया जा रहा है साथ ही आज इन्टरनेट के युग में सोशल और न्यूज़ मीडिया भी अपना योगदान दे रहे है. 

अब संस्कारो और भावनाओ को ले तो हमारे देश में बहुत से गुरु हुआ करते है जिनके द्वारा एक से दूसरे तक आसानी से इनका आदान प्रदान करने का best वे है. अब बात आती है आचार - बीचार याने एक ऐसी जगह चाहे ऑनलाइन वर्चुअल या ऑफलाइन किसी क्षेत्र में लोगो का आपस में एक जगह मिलकर अपने बिचारो और मुद्दों को रखकर सभी के द्वारा उन पर discuss करना ताकि कुछ सोसाइटी की समस्याओ और लाइफ की ग्रोथ को बढाया जा सके.

सभी वर्डो का इफ़ेक्ट जाने -

- शुरू से अंत तक, जैसा कि ऊपर बताया प्रत्येक चीज जो शुरू हुई है उनका अंत भी निश्चित है. अब हम इसके सकारात्मक और नकारात्मक पहलू पर आते है तो हम जानेगे उन चीजो या कार्यो के खत्म जल्दी हो जाने से अच्छा प्रभाव पड़ेगा जो बुरे है या कहे  जिनके द्वारा समाज और मानव जाती का हास हो रहा था. 

इसके विपरीत नेगेटिव इफ़ेक्ट ऐसा कि हमारे आस - पास यहाँ तक कि हमसे जुड़ी वे चीजे जो मानव जाती के लिए बहुत फायदेमंद थी और उनका अचानक अंत हो जाए तब ये एक बूरे सपने की तरह हिलाकर रख देता है.

- एक से दूसरे तक, हमने ऊपर कुछ बेहतरीन उदाहरण के साथ इसे एक्सप्लेन किया है अब मान लो इसी के अंतर्गत ये होने वाले आदान - प्रदान जो कि एक से दूसरे तक विभिन्न स्तर होते है याद इनको किसी गलत तरीके से किया जाये तो इनके परिणाम बहुत ज्यादा विपरीत होने के साथ घातक रिजल्ट को पैदा करेंगे.

इनके उपयोग -

- शुरू से अंत तक, चीजो को स्टार्ट और अंत को बतलाने हेतु इसका उपयोग करते है.
- एक से दूसरे तक, बहुत सी चीजो के आदान - प्रदान को दर्शाने के लिए इस वर्ड का इस्तेमाल करते है.

दोस्तों, मुझे विश्वास है आपने इस पोस्ट Through Means in Hindi को पढ़कर इससे काफी कुछ जान लिया होगा. यह आर्टिकल कैसा लगा ? अपने सुझावों को हमारे साथ अवश्य शेयर करे और लगातार उसी प्रकार की जानकारी हेतु हमारे साथ जुड़े रहे. ऊपर दिए सर्च बॉक्स का इस्तेमाल कर अपने मन पसंद वर्डो को विस्तार से उदाहरण के साथ जान पायेंगे.

Post a Comment

Previous Post Next Post